अपहरण कर मारपीट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

321

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

घटना के प्रकरण दर्ज होने के 24 घंटे में गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक सीकर डॉ. अमनदीप सिंह कपूर ने बताया कि सीकर जिला के धोद थाना क्षेत्र में तीन दिवस पूर्व रात्रि के समय अपहरण कर मारपीट करने व पैसे छिनने के संबंध में 21 मई 2019 की सायंकाल थाना धोद पर दर्ज प्रकरण के अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। 21 मई 2019 की सायंकाल कर्मवीर सिंह पुत्र कुशाल सिंह कुड़ी निवासी भुवाला थाना धोद जिला सीकर ने लिखित रिपोर्ट पेश की 17 मई 2019 को रात्रि करीब 10.30 बजे वह अपने चाचा के लड़के अविनाश के साथ गांव में शादी में जाकर घर जा रहे थे। जैसे ही भंवली तलाई से घर की तरफ घुमे तो पीछे से एक सफेद कैम्पर गाड़ी ने आकर रोका और उसमें सवार लोगों ने गाड़ी में डाल लिया जिसमें संदीप नेहरा पुत्र परमेश्वर लाल नेहरा निवासी दूगोली व 4-5 अन्य लोग थे। गाड़ी में डालकर मारपीट करते हुए दुगोली की पश्चिम तलाई में ले जाकर नीचे उतार लिया और वहां उनके 4-5 साथी और आगये। इन सबने मिलकर हमारे साथ भयंकर मारपीट की तथा पूरे कपडे़ उतारकर नंगा कर दिया। बाद में गुप्तांगों पर चोट मारी व अंतरंग बाल जला दिये। जेब से 3800 रूपये निकाल लिये तथा नग्न अवस्था में वीडियों बना लिया तथा धमकी दी कि अगर हमारे खिलाफ कानूनी कार्यवाही की तो नग्न अवस्था का वीडियों वायरल कर देंगे व किसी महिला से तुमारे खिलाफ छेड़छाड का मुकदमा दर्ज करा देंगे। इसी दौरान मेरा भाई धर्मवीर व मनोज सुण्डा और 2-3 अन्य गांव के लोग वहां पहुंच गये, जिनकों देखकर संदीप नेहरा व उनके साथी हमें छोड़कर भाग गये। घटना के बाद इन लोगों ने अपनी दबंगई दिखाते हुए रोज घर पर किसी न किसी रूप में मुकदमा दर्ज न कराने के लिए दबाब बनाते रहे, इसलिए डर के कारण प्रकरण दर्ज नहीं करा सका। परिवादी की रिपोर्र्ट पर 21 मई 2019 को सायंकाल थाना धोद पर प्रस्तुत करने पर प्रकरण संख्या 61/19 अंतर्गत धारा 143, 341, 323,365,382 भादंसं व 66 (5),67 (क) आई.टी.एक्ट में दर्ज किया गया।
डॉ. अमनदीप सिंह कपूर पुलिस अधीक्षक सीकर के निर्देशन में प्रकरण का अग्रिम अनुसंधान श्रीचन्द्र पु.नि. थानाधिकारी कोतवाली सीकर को सुपूर्द किया गया तथा देवेन्द्र कुमार शर्मा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीकर के मार्गदर्शन में कमल सिंह चौहान पुलिस उप अधीक्षक सीकर ग्रामीण, श्रीचन्द पुलिस निरीक्षक, थानाधिकारी थाना कोतवाली सीकर एवं बंशीधर, स.उ.नि. थाना धोद की विशेष टीम का गठन किया गया।
विशेष टीम ने घटना के खुलासे के संबंध में वैज्ञानिक व तकनीकी पद्धती, स्थानीय मुखबीरी के आधार पर वारदात में शामिल अपराधियों को चिन्हित किया। गठित टीम द्वारा चिन्हित अपराधियों की दस्तयाबी के लिये दबीश देकर मुख्य आरोपी संदीप नेहरा, भंवर लाल को दस्तयाब कर पूछताछ शुरू की गयी। इसके अतिरिक्त एक नाबालिग को भी निरूद्ध किया गया।
पुलिस अधीक्षक डॉ. कपूर ने बताया कि वारदात में यह सामने आया कि भंवर लाल के परिवार में 17 मई 2019 को शादी थी, जिसमें आये हुए मेहमान को छोड़कर उसका लड़का मोटरसाईकिल से वापिस आ रहा था तो रास्ते में कर्मवीर व अविनाश ने उसे रोककर मारपीट की। जिसकी शिकायत उसने अपने घर पर जाकर पिता भंवर लाल से की तो भंवर लाल पांच -सात व्यक्तियों के साथ गाड़ी में आया तो कर्मवीर व अविनाश वहीं खडे मिल गये, जिनकों उन्होंने गाड़ी में डाल लिया तथा मारपीट करते हुए दुगोली की पश्चिम तलाई में ले जाकर नीचे उतार लिया और वहां सबने मिलकर उनके साथ भयंकर मारपीट की तथा पूरे कपड़े उतार कर नंगा कर दिया।
पुलिस अधीक्षक सीकर के निर्देशन में गठित विभिन्न टीमों द्वारा इस घटना क्रम में शामिल 2 मुख्य आरोपीगण को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त हुई। जिसमें संदीप नेहरा पुत्र परमेश्वर नेहरा जाति जाट उम्र 23 साल निवासी दुगोली थाना धोद जिला सीकर, भंवर लाल पुत्र लोठूराम जाति जाट उम्र 43 साल निवासी दुगोली थाना धोद जिला सीकर, इसके अतिरिक्त घटनाक्रम में शामिल एक अन्य नाबालिग को भी निरूद्ध किया गया है। मुख्य आरोपी संदीप नेहरा पुत्र परमेश्वर नेहरा जाति जाट उम्र 23 साल निवासी दुगोली थाना धोद जिला सीकर के विरूद्ध थाना जसवन्तगढ जिला नागौर में चोरी का एक प्रकरण भी दर्ज है।

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More