देशभक्ति के जज्बे से भरपूर प्रस्तुतियों ने महकाई शाम

158

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

जिला प्रशासन की ओर से स्वाधीनता दिवस की पूर्व संध्या पर सांस्कृतिक समारोह

सीकर, बच्चे-बच्चे में राष्ट्रप्रेम की खुशबू और देशभक्ति के जज्बे से सरोबार एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियों ने स्वाधीनता दिवस की पूर्व संध्या को खूब सराहा गया। विभिन्न स्कूलों के नन्हें-मुन्हें छात्र-छात्राओं की रंगारंग प्रस्तुतियों ने इस शाम को यादगार बना दिया। अवसर था 73वें स्वाधीनता दिवस के अवसर पर बुधवार की शाम को राजकीय राधा कृष्ण मारू बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय सीकर में जिला प्रशासन की ओर से आयोजित भव्य सांस्कृतिक संध्या का। जिला कलेक्टर सी.आर.मीना, अतिरिक्त जिला कलेक्टर जयप्रकाश के मुख्य आतिथ्य में संजोई गई इस शाम में सीकर के विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों ने एक से बढ़कर एक देश भक्ति एवं स्वच्छता के प्रति जागरूकता की प्रस्तुतियां दीं, जिन पर हॉल में मौजूद हर कोई झूम उठा। अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवलन एवं सरस्वती वंदना के बाद सांस्कृतिक प्रस्तुतियों की शुरूआत हुई। देशभक्ति से परिपूर्ण गीत मारू स्कूल, रा.उ.मा.वि. बालिका बजाज रोड़़ सीकर की बालिकाओं द्वारा प्रस्तुतियों पर भी खूब दाद पाई। सांस्कृतिक संध्या में महात्मा गांधी रा. मा. वि. सीकर के छात्र-छात्राओं ने“ है शुभारम्भ है शुभारम्भ“ , “बजाज रोड़ की छात्राओं ने“ बता क्या पूछता है“, हर कदम वतन मेरे नाज है तेरा“, लघु नाटक “हमारी नदियां“ तथा राधा कृष्ण मारू बालिका उ.मा.वि. की छात्राओं ने देश भक्ति गीत पाणीडों बरसा दे , श्री कल्याण उ.मा.वि. द्वारा ने “ओ मां ऎ मेरी क्या फिकर“ गीत पर नृत्य, “है कर्म भूमि भारत“ गीत की एवं संस्कार इन्टरनेशनल स्कूल की छात्राओं ने सरतंगी नृत्य, विद्या भारती स्कूल के छात्रों ने “रून झुन बाजे घूघरा“ के नृत्य की एक से बढ़ कर एक प्रस्तुतियों पर श्रोताओं को भाव विभोर कर दिया। इस मौके पर संबोधित करते हुए कलेक्टर सी.आर.मीना ने कहा कि सैनिकों के बलिदानों से मिली आजादी की कीमत समझनी चाहिए और अपने देश व समाज के निर्माण व विकास के लिए लगन निष्ठा से अपने कर्तव्यों का निर्वहन ईमानदारी से करना चाहिए यही अपनी सच्ची देश भक्ति है। उन्होंने कहा कि आने वाला भविष्य युवाओं का है। युवा ही देश की तकदीर लिखेंगे। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी कहा करते थे कि स्वतंत्रता से जरूरी स्वच्छता हैं। प्रत्येक व्यक्ति स्वच्छता के प्रति स्वयं जागरूक रहकर अन्य लोगों के लिए भी प्रेरणा का स्त्रोत बने । उन्होंने सभी को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी। कार्यक्रम का संचालन व्याख्याता डॉ. चन्द्र प्रकाश महर्षि, सुधा तोषनीवाल ने किया। इस दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी करण सिंह गोठवाल, एसीईओ बलवीर सिंह भूकर, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सुरेन्द्र सिंह गौड, उपखण्ड अधिकारी सीकर गरिमा लाटा, सहायक कलेक्टर मुख्यालय प्रथम अनिल महला, डीईओ मुकेश मेहता, अधीक्षण अभियन्ता वाटरशैड प्रहलाद सिंह जाखड, उर्मीला शर्मा, प्रधानाचार्या विनीता शर्मा, विभिन्न विभागों के अधिकारीगण एवं शिक्षा विभाग के बड़ी संख्या में विद्यार्थी, अभिभावक, शिक्षक, आमजन मौजूद थे।

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More