झुंझुनू में जिला कलक्टर ने राजकीय बीडीके अस्पताल का किया औचक निरीक्षण

अस्पताल में सफाई व्यवस्था सदैव दुरूस्त रहे, निःशुल्क दवा व जांच योजना का रोगियों को मिले पूरा लाभ - जैन

0 849

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

जिला कलक्टर रवि जैन ने कहा कि राजकीय बीडीके अस्पताल में साफ-सफाई व्यवस्था सदैव दुरूस्त रहे, निःशुल्क दवा व जांच योजना का रोगियों को पूरा लाभ मिले, चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ समय पर अस्पताल में आए, सभी आवश्यक मशीनें व उपकरण दुरूस्त रहें, पात्र लोगों को विभिन्न चिकित्सा योजनाओं का लाभ समय पर मिले, वाडार्ें में चादरें आदि समय पर बदली जाएं, शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो तथा शौचालय स्वच्छ रहें। ये निर्देश जिला कलक्टर ने आज शुक्रवार को राजकीय बीडीके अस्पताल के औचक निरीक्षण के समय चिकित्सा अधिकारियों को दिए। उन्होंने अस्पताल में विभिन्न वार्ड, निःशुल्क दवा भंडार, ओपीडी, ट्रोमा यूनिट, मोर्चरी, ओटी, राजकीय धर्मशाला, आपातकालीन वार्ड, एक्सरे कक्ष, आईसीयू, टीकाकरण कक्ष, ब्लड बैंक, न्यू बोर्न केयर यूनिट, कुपोषण उपचार केन्द्र आदि का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने अस्पताल की दीवारों पर बिजली के तारों को देख निर्देश दिए कि इन्हें केसिंग लगाकर कवर किया जाए, जिससे अस्पताल का सौंदर्य ना बिगडे़, साथ ही दुर्घटना की आशंका भी ना रहे। जिला कलक्टर ने कायाकल्प योजना के तहत अस्पताल के प्रथम स्थान पर आने पर प्रसन्न्ता व्यक्त की।
-स्वच्छ रहें शौचालय- जिला कलक्टर ने विभिन्न वार्डो के निरीक्षण के दौरान शौचालयों की स्थिति देखी। कुछ स्थानों पर शौचालय गंदे मिलने पर उन्होंने गहरा असंतोष व्यक्त करते हुए, इस स्थिति में आगामी 2 दिन में सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पुनः निरीक्षण के दौरान अगर शौचालय गंदे पाए गए, तो संबंधित कार्मिक के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।
-निःशुल्क दवा व जांच योजना का मिले पूरा लाभ- जिला कलक्टर ने निःशुल्क दवा भंडार में दवाओं की उपलब्धता की जांच की। उन्होंने कहा कि निःशुल्क दवा के सभी काउंटर खुले रहें, यह सुनिश्चित किया जाए। सभी काउंटर्स के बाहर निःशुल्क दवा संबंधित बोर्ड लगवाया जाए। मरीजों को निःशुल्क जांच योजना का भी पूरा लाभ मिले। उन्होंने कहा कि दवा का स्टॉक खत्म होने से पहले ही डिमांड भेज दी जाए। उन्होंने कहा कि अस्पताल में एंटी रेबीज व एंटी स्नेक टीके पर्याप्त संख्या में उपलब्ध रहें। पीएमओ ने बताया कि दवा भंडार में 524 प्रकार की निःशुल्क दवाएं उपलब्ध हैं।
-लाभ मिल रहा है ? जिला कलक्टर ने विभिन्न वार्डों के निरीक्षण के दौरान वहां भर्ती मरीजों एवं उनके परिजनों से मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी ली, साथ ही उनसे पूछा कि उन्हें निःशुल्क दवा व जांच योजना का लाभ मिल रहा है व चिकित्सक व नर्सिग स्टाफ द्वारा उनकी सही प्रकार से देखभाल की जा रही है ? ईएनटी विभाग में मरीज जमीला ने बताया कि उसे निःशुल्क दवा मिल रही है, वहीं होम्योपैथिक दवा वितरण कक्ष में सागरमल ने बताया कि उसे होम्योपैथिक दवा मिल रही है। टीकाकरण कक्ष में अपनी दोहिती को टीका लगवाने आई अंजू से जिला कलक्टर ने पूछा कि क्या उन्हें बच्ची के जन्म पर मिलने वाले राजश्री योजना के लाभ की जानकारी है। उन्होंने कुपोषण उपचार केन्द्र में बच्चों को दिए जाने वाले भोजन व दवा की जांच की, साथ ही एडमिट किए गए बच्चों के पूर्व व बाद के वजन चार्ट की भी जांच की। उन्होंने ट्रोमा सेंटर में भर्ती बालक अमान के स्वास्थ्य की जानकारी उसके परिजनों से ली।
-बच्ची के स्वास्थ्य की ली जानकारी – जिला कलक्टर ने न्यू बोर्न केयर यूनिट के अवलोकन के दौरान, कुछ दिन पूर्व घोड़ीवारा बालाजी मंदिर के पास मिली नवजात बच्ची के स्वास्थ्य की जानकारी ली। उन्होंने निर्देश दिए कि बच्ची का स्वास्थ्य अच्छा रहे, इसके लिए सभी आवश्यक इंतजाम सुनिश्चित किए जाएं। इस अवसर पर जिला परिषद सीईओ जेपी बुनकर, उपखण्ड अधिकारी अलका विश्नोई, पीएमओ डॉ. शीशराम गोठवाल, समाज सेवी संजय शर्मा, सीएमएचओ सुभाष खोलिया, नर्सिंग अधीक्षक सज्जन सिंह पूनिया सहित विभिन्न चिकित्सक उपस्थित थे।

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More