काम नहीं करने वाले कार्मिकों को दी जाएगी अनिवार्य सेवानिवृत्ति – नायक

170

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

जिला कलक्टर संदेश नायक ने सुनी आमजन की फरियाद, अधिकारियों को दिए निर्देश

चूरू, जिला कलक्टर संदेश नायक ने गुरुवार को जिला मुख्यालय स्थित राजीव गांधी सेवा केंद्र में हुई जनसुनवाई मेंं जिलेभर से आए लोगों की फरियाद सुनी तथा अधिकारियों को समस्याओं के निस्तारण के लिए मौके पर ही निर्देशित किया। इस दौरान जिला जन अभाव एवं सतर्कता समिति में दर्ज प्रकरणों, लोकायुक्त व विभिन्न आयोगों से प्राप्त शिकायतों के त्वरित निस्तारण को लेकर भी अधिकारियों से कहा। जिला कलक्टर ने आमजन की समस्याएं सुनते हुए एसडीएम, तहसीलदार व नगर निकाय अधिकारियों से कहा कि वे अपने पदीय कर्तव्यों के प्रति लापरवाह अधीनस्थ अधिकारियों एवं कर्मचारियों के संबंध में उन्हेंं अवगत कराएं। यदि कर्मचारी अपने काम के प्रति लापरवाह है तथा राजकीय कार्य में सहयोग नहीं करता है तो उसे तत्काल अनिवार्य सेवानिवृत्ति दे दी जाएगी। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि अतिक्रमण की शिकायतों पर सख्ती से कार्रवाई करें। किसी भी शिकायत पर त्वरित कार्रवाई होनी चाहिए ताकि शासन-प्रशासन का इकबाल बुलंद हो। यह ध्यान रखें कि अतिक्रमण पर की जाने वाली कार्रवाई निष्पक्ष ढंग से संपादित की जाए। उन्होंने कहा कि विभिन्न आयोगों एवं लोकायुक्त कार्यालय से आने वाली शिकायतों का त्वरित निस्तारण हो। एक शिकायत पर उन्होंने डिस्कॉम एसई से कहा कि वे बिजली बिलों की समयबद्ध आपूर्ति सुनिश्चित करें। घांघू ग्राम पंचायत से आए ग्रामीणों ने जिला कलक्टर से अनुरोध किया कि वे घांघू सरपंच, ग्रामसेवक व जेटीए के खिलाफ महानरेगा में की गई अनियमितताओं के प्रकरण में एसीबी को यथाशीघ्र तथ्यात्मक रिपोर्ट उपलब्ध करवाएं, जिस पर जिला कलक्टर ने संबंधित को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने आईसीडीएस उपनिदेशक से कहा कि जून माह में निकाली गई रिक्तियों में अब तक आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की भर्ती पूरी हो जानी चाहिए थी। भर्ती प्रक्रिया को मॉनीटर करते हुए उसे गति दें और सुनिश्चित करें कि जल्द से जल्द खाली पद भरे जाएं ताकि लोगों की इनकी सेवाओं का लाभ मिले। यदि ग्राम पंचायत इस संबंध में कार्यवाही नहीं करती है तो फिर अग्रिम कार्यवाही कर एसडीएम के जरिए यह भर्ती संपन्न करवाएं। इस दौरान एसपी तेजस्वनी गौतम, एडीएम रामरतन सौंकरिया, एसीईओ डॉ नरेंद्र चौधरी, एसडीएम श्वेता कोचर, कमिश्नर अभिलाषा सिंह, सानिवि, पेयजल एवं विद्युत निगम के एसई, समाज कल्याण के सहायक निदेशक अशफाक खान, एक्सईएन रामकुमार झाझड़िया, एसीपी नरेश टुहानिया, एसीएफ राकेश दुलार सहित संबंधित अधिकारीगण मौजूद थे।

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More