लॉक डाउन बढ़ने से नहीं घबराए अभिभावक और विद्यार्थी

1,498

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

शिक्षा विभाग ने ऑनलाइन शालादर्पन व यू ट्यूब चैनल्स व अन्य लिंक्स के द्वारा कर रखी है पढ़ाई की व्यवस्था

झुंझुनू, प्रधानमंत्री द्वारा देश में एक बार पुनः तीन मई तक लॉक डाउन की घोषणा करने के बाद अभिभावकों एवं विद्यार्थियों में पढ़ाई के प्रति चिंता होना स्वाभाविक है। राजस्थान में माननीय शिक्षा मंत्री महोदय के निर्देशन में शिक्षा विभाग ने पहले से ही विद्यार्थियों की ऑनलाइन शालादर्पन व यू ट्यूब चैनल्स व अन्य लिंक्स के द्वारा पढ़ाई की व्यवस्था कर रखी है।इस संबंध में शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा बहुत अच्छी योजना तैयार की गई है।राजस्थान शिक्षा सेवा परिषद के आईटी विभाग द्वारा इस संबंध में SMILE योजना के द्वारा विद्यार्थियों के लिए विभिन्न कंटेंट्स वीडियोज बनाकर उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। शालादर्पन के माध्यम से रोज सुबह 9:00 बजे विद्यार्थियों अभिभावकों के व्हाट्सएप ग्रुप पर ये कंटेंट्स उपलब्ध करवाए जाते हैं। निदेशक माध्यमिक शिक्षा सौरभ स्वामी प्रदेश के सभी अधिकारियों व पीईओ ग्रुप से स्वयं जुड़े हुए है जो दिन में कई बार प्रदेश के सभी शिक्षा अधिकारियों को निर्देश देते हुए प्रोत्साहित करते रहते है। निदेशक स्वयं व जिला व ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों द्वारा सतत मॉनिटरिंग की जा रही है।इसी में एक और नवाचार करते हुए शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने 15 अप्रैल से फेसबुक लाइव आकर शिक्षा विभाग से संबंधित विभिन्न प्रश्नों के जवाब देने का निश्चय किया है। मंत्री डोटासरा विभाग द्वारा विद्यार्थियों के लिए बनाई गई विभिन्न योजनाओं की जानकारी भी देंगे। इसके अलावा बहुत से अध्यापक अपनी रुचि से विभिन्न कंटेंट वह वीडियोज बनाकर भी एक दूसरे को शेयर कर रहे हैं जिससे विद्यार्थियों को अपनी पढ़ाई के लिए पर्याप्त सामग्री मिल रही है। संयुक्त निदेशक चुरू संभाग सुरेंद्र गौड़ ने संभाग के तीनों जिलों सीकर झुंझुनूं व चूरू के शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि मंत्री महोदय व विभाग के उच्च अधिकारियों द्वारा जिस मंशा से विद्यार्थियों के लिए योजनाएं बनाए जा रही हैं उनको फील्ड में विद्यार्थियों को वास्तविक लाभ पहुंचाने के लिए संस्था प्रधानों एवं विषय अध्यापकों को बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। जिला स्तरीय और ब्लॉक स्तरीय अधिकारी लगातार मॉनिटरिंग करते रहें तथा इस संबंध में उच्च स्तर पर चाही गयी सूचनाएं समय पर भेजते रहें। सहायक निदेशक ओम प्रकाश फगेड़िया ने बताया कि विभाग द्वारा जो भी सामग्री शाला दर्पण के माध्यम से व अन्य लिंक्स के द्वारा उपलब्ध करवाई जा रही है उनको संभाग के तीनों जिलों में प्रेषित करते हुए वापस फीडबैक भी लिया जा रहा है तथा आवश्यक निर्देश जारी किए जा रहे हैं।मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी झुंझुनू घनश्याम दत्त जाट ने जिले के सभी शिक्षा विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देशित किया है कि लॉक डाउन बढ़ने के बाद विद्यार्थियों के अध्ययन अध्यापन की व्यवस्था की हमारी जिम्मेदारियां बहुत बढ़ गई हैं। हमें पढ़ाई के साथ साथ अभिभावकों एवं विद्यार्थियों को समय-समय पर प्रोत्साहित भी करते रहना होगा।एडीईओ कमलेश तेतरवाल ने बताया कि जिले में सीडीईओ जाट के नेतृत्व में डीईओ सेकण्डरीअमरसिंह पचार,डीईओ एलिमेंट्री पितराम सिंह काला,एडीपीसी रमसा सुभाष मीणा व सभी सीबीईओ आपदा के समय विभाग के इस नवाचार को सफल बनाने के लिए पूरे समर्पण व गम्भीरता से मोनिटरिंग कर प्रोत्साहित कर रहे हैं।जिले के शतप्रतिशत विद्यालयों में wapp ग्रुप्स बना लिए गए है जिनमे संस्थाप्रधानों,विषयाध्यापकों,विद्यार्थियों व अभिभावकों को जोड़ा गया है।

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More