राजीव गांधी अवार्ड प्राप्त करने पर महेन्द्र शास्त्री का किया अभिनन्दन

225

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

बगड़ और खुड़ाना में

खुडाना, राजीव गांधी समरसता अवार्ड से सम्मानित हुए राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय खुडाना के आदर्श शिक्षक महेन्द्र शास्त्री का विद्यालय प्रांगण में स्वागत किया गया। स्वागत समारोह में बोलते हुए प्रधानाचार्य उषा शर्मा ने कहा कि शास्त्री का राष्ट्रीय स्तर पर सम्मान हम सभी के लिए प्रेरणादायी है। शास्त्री की तारीफ करते हुए उषा शर्मा ने कहा कि योग्य का सम्मान करने से प्रतिभा का मनोबल बढता है और वे आगे बेहतर करने का प्रयास करते हैं। साथ ही दूसरों को बेहतर करने की प्रेरणा मिलती है। शास्त्री ने विद्यार्थियों से कहा कि सकारात्मक सोच आपके व्यक्तित्व के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगी। जीवन में कठिनाईयां आती हैं इनसे घबराएँ नहीं। आपका लक्ष्य आसमान पर होना चाहिए और पांव जमीन पर। आप समाज की गरीबी और अमीरी के बीच की असमानता की खाई पाटने की सोच रखें। विद्यालय स्टाफ व छात्र छात्राओं के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करता हूँ तथा इस सम्मान को संजोकर रखने का वायदा करता हूँ। व्याख्याता सुमेर सिंह,जगदीश चन्द्र,सरोज यादव व मनीषा,सुमन कृष्णिया,इन्दिरा,कविता सैनी, शिक्षक उम्मेद सिंह,अध्यापक अजित कुमार,सरोज ढाका,विश्वनाथ योगी,रणजीत चन्देलिया,नाथी देवी व छात्र छात्राओं ने पुष्पाहार,गुलदस्ता,शाल व प्रतीक चिन्ह भेंट कर स्वागत किया।
बगड़ , राजस्थान विद्या मंदिर माध्यमिक विद्यालय के निदेशक महेन्द्र शास्त्री को नई दिल्ली में राजीव गांधी समरसता अवार्ड से सम्मानित करने पर विद्यालय में अभिनन्दन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधानाध्यापक श्रीराम सैनी ने की। विद्यालय सचिव अमित कुमार मुख्य अतिथि थे। माँ शारदे के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्वलन से कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। विद्यालय के अध्यापक अनिता सैनी,प्रमिल कुमार,सुशीला चौधरी,प्रजापत चन्द्रिका,विद्याधर झाझङिया,कान्ता सैनी,बबीता,कमला सैनी,महेन्द्र कुमार,दयाशंकर सैन ने माला,साफा,शाल व गुलदस्ता भेंट कर अभिनन्दन किया। अपने अभिनन्दन पर बोलते हुए शास्त्री ने कहा कि अभिनन्दन अच्छे व्यवहार को प्रतिस्पर्धी भावना को प्रोत्साहित करने का एक तरीका होता है। एक श्रेष्ठ समाज की रचना में सक्रिय भूमिका निभाना मेरे जीवन का उद्देश्य रहा है जो भविष्य में भी रहेगा। मुख्य अतिथि ने कहा कि हमें श्री शास्त्री के कृतित्व और व्यक्तित्व से प्रेरणा लेकर सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय भी भावना से कार्य करना चाहिए। प्रधानाध्यापक श्रीराम सैनी ने सभी का आभार और धन्यवाद व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन व अ राधेश्याम सैनी ने किया।

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More