ताजा खबरनीमकाथानाशेष प्रदेश

मिलावट के खिलाफ अभियान : डी-मार्ट पर मिला नकली घी

Avertisement

डिस्ट्रीब्यूटर असली घी के कार्टून में कुछ डिब्बे नकली घी के करता था सप्लाई

जयपुर, मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा की पहल एवं चिकित्सा मंत्री गजेन्द्र सिंह खींवसर के निर्देशों पर खाद्य सुरक्षा आयुक्तालय की ओर से प्रदेश में मिलावट के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। शुद्ध आहार-मिलावट पर वार अभियान के तहत गुरूवार को जयपुर में बड़ी कार्रवाई की गई, जिसमें डी—मार्ट स्टोर पर विभिन्न ब्राण्ड का नकली घी पाया गया। खाद्य सुरक्षा आयुक्त इकबाल खान के सुपरविजन एवं अतिरिक्त आयुक्त पंकज ओझा के नेतृत्व में यह कार्यवाही की गई।

ओझा ने बताया कि मालवीय नगर स्थित डी मार्ट स्टोर पर नकली प्रो वैदिक घी बिकने की शिकायत प्राप्त हुई थी। इस सूचना के आधार पर टीम डी मार्ट पर जांच करने पहुंची। टीम ने वहां जांच की तो पाया कि प्रो वैदिक घी घटिया एवं नकली था। इस दौरान जांच में यह भी पता चला कि सरस घी के एक ही बैच नंबर और एक ही सीरीज के कई सारे घी के डिब्बे थे। इस पर सरस डेयरी के क्वालिटी कंट्रोल मैनेजर और एनालिस्ट को बुलाकर जांच कराई गई। जांच में यह घी नकली पाया गया।

डिस्ट्रीब्यूटर के द्वारा डी मार्ट को सप्लाई किए गए घी में बीच—बीच में नकली घी के डिब्बे रखकर सप्लाई किए गए थे। इस पर विश्वकर्मा इंडस्ट्रियल एरिया कुकर खेड़ा के पास डिस्ट्रीब्यूटर खंडेलवाल एंड कंपनी पर कार्रवाई की गई। यहां सरस के कार्टून में नकली सरस घी के डिब्बे बरामद किए गए। मौके पर सरस डेयरी के प्रतिनिधि को बुलाया गया, जिन्होंने प्रमाणित किया कि घी नकली है। नकली घी को सीज किया गया और सैंपल लिए गए।

डी मार्ट पर बेचे जा रहे हरियाणा के प्रो वैदिक घी की भी सरकारी लैब में जांच करवाई गई, जिसमें प्रथम दृष्टया नकली और घटिया पाए जाने पर लगभग 450 लीटर घी सीज किया गया। साथ ही डी मार्ट के एरिया सेल्स मैनेजर को जयपुर के सारे स्टोर्स और वेयरहाउस में रखे प्रो वेदिक घी और सरस घी के स्टॉक को रोकने और अग्रिम आदेशों तक विक्रय नहीं करने हेतु पाबंद किया गया है। 40 लीटर नकली सरस घी भी सीज कर सरस डेयरी के हवाले किया गया।

ओझा ने बताया कि इस मामले में कार्रवाई आगे जारी रहेगी। आशंका है कि इसमें कोई बड़ा रैकेट सक्रिय है। कार्रवाई के दौरान खाद्य सुरक्षा अधिकारी दीपक सिंधी, अवधेश गुप्ता एवं रमेश यादव भी साथ थे।

Related Articles

Back to top button