खेलकूदचुरूताजा खबर

29 अगस्त से होगा राजीव गांधी ग्रामीण खेल महाकुंभ का आगाज

Avertisement

30 लाख से अधिक खिलाड़ियों ने करवाया पंजीयन, जिलेवार हुआ टीमों का गठन

ग्राम पंचायत व ब्लॉक स्तर के लिए शिक्षा विभाग को होगा बजट का आंवटन

राज्य क्रीड़ा परिषद खेल आयोजन को लेकर जुटा तैयारियों में

चूरू, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बजट घोषणा की अनुपालना में राज्य में पहली बार राज्य खेलों के बाद राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल के महाकुंभ का आगाज 29 अगस्त मेजर ध्यानचंद की जयंती पर खेल दिवस से होगा। ग्राम पंचायत स्तर से लेकर राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं के आयोजन को लेकर कार्यक्रम घोषित कर दिये जाने के बाद खिलाड़ियों में खेलों को लेकर जबरदस्त उत्साह नजर आ रहा है। मुख्य खेल अधिकारी वीरेन्द्र पूनिया ने बताया कि कबड्डी, टेनिस बॉल क्रिकेट, वालीबॉल, हॉकी (बालक – बालिका), शूटिंग बॉल (बालक वर्ग) व खो – खो (बालिका वर्ग) खेलों में होने वाली खेल प्रतियोगिताओं में राज्य की 11,341 ग्राम पंचायतों से 30 लाख से अधिक खिलाड़ियों ने पंजीयन करवाया है। उन्होंने बताया कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेलों में टीमों का गठन किया जा रहा है।

प्रतियोगिताओं का इस प्रकार होगा आयोजन

राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल की शुरूआत ग्राम पंचायत स्तर चार दिवसीय खेल प्रतियोगिताओं के साथ 29 अगस्त से होगी। ग्राम पंचायत स्तर पर विजेता टीमें ब्लॉक स्तर पर खेलेगी जिसका चार दिवसीय आयोजन 12 सितम्बर से प्रारम्भ होगा। तीन दिवसीय जिला स्तरीय प्रतियोगिताएं 22 अक्टूबर से शुरू होगी। इसके बाद चार दिवसीय राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन 2 अक्टूबर से होगा।

जिले वार हुआ टीमों का गठन

छह खेलों में होने वाले राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल को लेकर ग्राम पंचायत स्तर पर टीमों का गठन किया जा चुका है। कुछ जिलों में टीमें गठित की जा रही है।

आयोजन समितियों का हुआ गठन

राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेलों को लेकर विभिन्न स्तर पर आयोजन समितियों का गठन किया गया है। ग्राम पंचायत स्तर गठित समिति में सचिव ग्राम पंचायत संयोजक व राजकीय विद्यालय के प्रधानाचार्य/प्रधानाध्यपक, सचिव ग्राम पंचायत, पटवारी ग्राम पंचायत व शारीरिक शिक्षक समिति के सदस्य होंगें। ब्लॉक स्तर पर गठित समिति में उपखण्ड अधिकारी पंचायत समिति संयोजक, प्रधान ब्लॉक पंचायत समिति, विकास अधिकारी पंचायत समिति, ब्लॉक शिक्षा अधिकारी, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग प्रतिनिधि, जिला खेल अधिकारी का प्रतिनिधि व शारीरिक शिक्षक सदस्य होंगे।

यह रहेगा बजट का प्रावधान

ग्राम पंचायत स्तर पर होने वाली खेल प्रतियोगिताओं को लेकर 6,000 हजार रुपये आयोजन व 3,150 रूपये प्रति ग्राम पंचायत के लिए बजट का प्रावधान किया गया है। इसी प्रकार ब्लॉक स्तर पर प्रतियोगिता आयोजन के लिए 10,000 हजार रुपये, खेल सामग्री 6,300, भोजन 5,600 रुपये व अन्य व्यय के लिए 3,000 हजार रुपये प्रति ब्लॉक के लिए बजट आंवटित किया गया है।

शिक्षा विभाग की रहेगी अहम भूमिका

राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल के आयोजन को लेकर शिक्षा विभाग की महत्ती भूमिका रहेगी। खेल प्रतियोगिताएं आयोजित करवाने को लेकर शिक्षा विभाग को बजट आंवटित किया जा रहा है। प्रतियोगिता करवाने को लेकर अनुभवी दक्ष शारीरिक शिक्षकों का भी सहयोग लिया जाएगा।

राज्य क्रीड़ा परिषद तैयारियों को दे रहा है अंतिम रूप

राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल के आयोजन को लेकर काफी संवेदनशील नजर आ रही है। इसके चलते डॉ. कृष्णा पूनिया विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करके आयोजन से जुड़ी हर छोटी व बड़ी चीज को गम्भीरता के साथ देख रही है। डॉ. पूनिया ने विभागीय अधिकारियों से साफ तौर पर कहा है कि आयोजन को लेकर किसी भी प्रकार की लापरवाही व कोताही बर्दास्त नहीं की जायेगी।

इनका कहना है

राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल के आयोजन से गांव – गांव, ढ़ाणी – ढ़ाणी में युवाओं खेलों व स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता बढ़ेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत खेल आयोजन को लेकर काफी उत्साहित हैं। विश्व कीर्तिमान स्थापित करने की ओर अग्रसर राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल इतिहास के सुनहरे पन्नों पर लिखा जायेगा।

पदमश्री ओलम्पियन डॉ. कृष्णा पूनिया

अध्यक्ष, राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद

Related Articles

Back to top button