खेलकूदताजा खबरसीकर

जिद्दी उड़ान : सीकर की निशा ने जलाई क्रिकेट में कामयाबी की लौ

आभाव भी आपके जीवन के प्रभाव को कम नहीं कर सकते

Avertisement

सीकर शहर के राधाकिशनपुरा की निशा सैनी का हुआ राजस्थान की सीनियर क्रिकेट टीम में चयन

सीकर, इंसान में कुछ कर गुजरने का माद्दा हो तो मजबूरियां भी मजबूतियों में बदल जाती हैं। मजबूत इरादों के साथ यदि प्रतिभा आपके पास हो तो आभाव भी आपके जीवन के प्रभाव को कम नहीं कर सकते। इसी बात को सीकर शहर के राधाकिशनपुरा की निशा सैनी ने साबित करके दिखाया है। बहुत ही साधारण परिवार से संबंध रखने वाली निशाने क्रिकेट जैसे खेल में खुद को साबित किया है। पिता सुरेंद्र सैनी दुकान में सेल्समैन का काम करते हैं माँ मंजू देवी खेत में मजदूरी का काम करती हैं। वही जिस क्रिकेट के मैदान में मां ने घास आदि की साफ सफाई का काम करने के लिए मजदूरी की। उसी मैदान से निरंतर अभ्यास और मेहनत से कामयाबी की इबारत लिख दी है। फर्स्ट ईयर की छात्रा निशा क्रिकेट की बाल को अंगुलियों पर ऐसे नचाती है जिसके चलते विकेट एक के बाद एक उनकी झोली में आकर गिर जाते हैं। पिछले साल सीनियर महिला स्टेट चैंपियनशिप के T20 चैलेंजर ट्रॉफी व संभावित कैंप के मैच में उसने 18 विकेट चटकाए थे। इसी के साथ उन्होंने चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी तरफ खींच लिया। लिहाजा कम उम्र में ही उन्होंने सीनियर टीम में भी जगह बना ली है। महज 10 साल की उम्र से ही क्रिकेट खेलने का शौक ऐसा परवान चढ़ा की अभाव से भी पार पाते हुए आज निशा ने यह मुकाम हासिल कर लिया है। वही निशा सैनी का अब लक्ष्य भारतीय क्रिकेट टीम में जगह बना कर अपने आदर्श ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर शेन वॉर्न की तरह नाम कमाने का है।

Related Articles

Back to top button