झुंझुनूताजा खबरराजनीतिविशेषवीडियोशिक्षा

Video News – निजी स्कूल की बस से सरकारी स्कूल के छात्र की मौत के मामले में अपडेट

Avertisement

जिले के निजी स्कूल संचालकगण ने जिला कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

गुढ़ा में स्थित टैगोर स्कूल की बस से हुई थी एक सरकारी स्कूल के बच्चे की मौत

झुंझुनू, झुंझुनू जिले के गुढ़ा में स्थित टैगोर स्कूल बस से हुई एक सरकारी स्कूल के बच्चे की मौत का मामला जहा तूल पकड़ता जा रहा है वहीं आज जिले के निजी स्कूल संचालकगण जिला कलेक्टर के समक्ष अपना पक्ष रखने के लिए प्रस्तुत हुए। निजी स्कूल संचालकों के पक्ष रखते हुए जी एल कालेर ने कहा कि स्कूल की बस से जो हादसा हुआ है उसमें एक लड़के की मौत हुई है इसमें स्कूल बस की इंश्योरेंस भी है और कानूनी प्रक्रिया भी है जिसके तहत कार्रवाई होनी चाहिए लेकिन इस मामले को राजनीतिक रंग दिया जा रहा है। इसके विरोध में निजी स्कूल संचालकों में आक्रोश है जिसको लेकर हम जिला कलेक्टर को ज्ञापन प्रस्तुत कर रहे हैं। उनका कहना था कि किसी भी प्रकार के हादसे में प्रक्रिया के लिए कानून बनाया हुआ है जबकि इस मामले में राजनीति की जा रही है। यदि कोई दोषी व्यक्ति है तो कार्रवाई होनी चाहिए लेकिन जिस तरीके से स्कूल के सामने भी धरना दिया जा रहा है और स्कूल पर प्रेशर बनाने के लिए पैसे की डिमांड की जा रही है यह गलत है। वही मामले के राजनीतिकरण करने के बारे में पूछे जाने पर उनका कहना था कि बताया जा रहा है कि इस मामले को लेकर मंत्री का बेटा भी धरने पर बैठा था। वही आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गुढ़ा थाना इलाके में टैगोर स्कूल की बस की टक्कर से सरकारी स्कूल के छात्र की मौत हो गई थी। विकास उम्र 18 वर्ष पुत्र रामकरण स्कूल जा रहा था इसी दौरान टैगोर स्कूल की बस ने टक्कर मार दी थी जिसके बाद घायल को बीडीके अस्पताल लाया गया जहां पर उसको मृत घोषित कर दिया गया। जिसके बाद परिजन और ग्रामीण जन बीडीके अस्पताल के मोर्चरी रूम के आगे भी धरने पर बैठ गए थे। उनकी मांग है कि 50 लाख का मुआवजा और सरकारी नौकरी दी जाए इसके साथ ही बस चालक पर कार्रवाई भी की जाए।

Related Articles

Back to top button