झुंझुनूताजा खबरशिक्षा

जेजेटी द्वारा समाजसेवी सचिन दादा धर्माधिकारी को दी डिलीट की मानद उपाधि

Avertisement

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री शिंदे सहित ढाई लाख लोग रहे मौजूद

झुंझुनूं, श्री जेजेटी विश्वविद्यालय के इतिहास में पहली बार दो लाख से अधिक विशाल जन समुदाय के समक्ष विशेष दीक्षांत समारोह नई मुंबई के सिडकों प्रदर्शनी ग्राउंड में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में राज्य के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलाधिपति डॉ. विनोद टीबडेवाला ने की। उन्होंने सभी उपस्थित अतिथि एवं विशाल जन समुदाय का स्वागत किया। इस विशेष दीक्षांत समारोह में अलीबाग के प्रख्यात समाज सेवक सचिन दादा धर्माधिकारी को उनके सेवाकार्यो एवं सामाजिक उत्थान के लिए किए गए कार्यो के लिए उन्हें मानद डी.लिट. की डिग्री प्रदान की गई। विश्वविद्यालय द्वारा अभी तक मानद डी. लिट. की डिग्री देश के विभिन्न राज्ययों के बीस से अधिक राज्यपालों को प्रदान की गई है। इसके अलावा सामाजिक उत्थान में किए गए असाधारण विशेष सेवा कार्यो को देखते हुए कुछ अन्य सेवा कर्मियों को भी यह मानद डिग्री प्रदान की गई है।

इस समारोह में पदमश्री अप्पासाहेब धर्माधिकारी, महाराष्ट्र सरकार के मंगल मंत्री मंगल प्रभात लोढ़ा, मंत्री कपिल पाटिल, , नई मुंबई महान नगर पालिका के कमिश्नर, सिडक़ों के कमिश्नर, पूनम महाजन एवं समाज के अन्य प्रतिष्ठित व्यक्ति विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने विशाल जनसमुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि सचिन दादा धर्माधिकारी को डी.लिट. की डिग्री प्रदान करने से श्री जेेजेटी विश्वविद्यालय की गरिमा में वृद्धि हुई है। जेजेटी यूनिवर्सिटी के चेयरपर्सन डॉ. विनोद टीबडेवाला ने बताया कि यह विशाल धर्माधिकारी परिवार अब जेजेटी विश्वविद्यालय का हिस्सा हो गया है। इस उपस्थित अपार जन समुदाय को नियंत्रित करने के लिए ट्रैफिक विभाग द्वारा विशेष नियंत्रण की व्यवस्था की गई थी। इसके अलावा धर्माधिकारी अनुयायी परिवार के पांच हजार से भी अधिक स्वयंसेवकों की टीम ने यातायात के नियंत्रण व्यवस्था में मदद की। समारोह में उद्योगपति रमाकांत टीबड़ेवाला, ट्रस्टी बाबूलाल ढढारिया, उमा विनोद टीबडेवाला, विशाल टीबडेवाला, उमा विशाल टीबड़ेवाला, डॉ. एमजी श्रीहट्टी, डॉ. वीएस वलेचा, डॉ. दीनदयाल मुरारका, रामावतार अग्रवाल, डॉ. दीनानाथ केडिया, कमल काबरा, मनमोहन बागड़ी, विशाल खेडेकर, डॉ. अंजू सिंह, डॉ. वनमाली चतुर्वेदी एवं अन्य ट्रस्टीगण, विभिन्न विभागों के डीन एवं काउंसिल मेंबर्स उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button