झुंझुनूताजा खबर

राष्ट्रीय कब बुलबुल महोत्सव बिहार से लौटने पर ज्योति विद्यापीठ स्कूल में हुआ स्वागत

Avertisement

पहली बार राजस्थान ने जीती राष्ट्रीय चैंपियन शील्ड

झुंझुनू, भारत स्काउट गाइड नई दिल्ली के तत्वाधान बरौनी बिहार मे आयोजित राष्ट्रीय कब बुलबुल महोत्सव मे राजस्थान राज्य भारत स्काउट गाइड स्थानीय संघ व जिला झुंझुनू के ग्रुप ज्योति विद्यापीठ सीनियर सेकेंडरी स्कूल बगड़ के कब बुलबुल ने राजस्थान का गाड दिया झंडा। झुंझुनू से गए दल स्काउट गाइड बंशीलाल के नेतृत्व में अपनी राजस्थान की छाप छोड़ते हुए पहली बार चैंपियनशिप प्राप्त की। विद्यालय प्रबंधक चिरंजी लाल सैनी ने बताया कि 26 से 30 जून तक राष्ट्रीय मुख्यालय नई दिल्ली के तत्वाधान में बिहार के बरौनी स्थित वीरेंद्र शर्मा स्काउट पार्क गढहरा में कब बुलबुल राष्ट्रीय महोत्सव आयोजित किया गया था। स्थानीय विद्यालय स्काउट प्रभारी बंशीलाल सहायक फ्लॉक लीडर रिद्धि के नेतृत्व मैं बुलबुल जहानवी गोठवाल ,पलक ,वंदिता, दिव्या, डिंपल ,कब मयंक सैनी ,तक्ष बिजारणिया, मंकित ,मयंक ,आभास ,पीयूष काला, ने भाग लिया वहां कब बुलबुल ग्रीटिंग ,ग्रांड सलूट सिक्स कॉर्नर जंगली डांस बुलबुल ट्री तारा स्टोरी प्ले एक्टिंग मॉडल मेकिंग पेपर कटिंग ग्रुप सॉन्ग ग्रुप डांस फूड प्लाजा प्रदर्शनी सहित विभिन्न प्रकार की गतिविधियों व प्रतियोगिताएं आयोजित हुई स्काउट प्रभारी बंशीलाल ने बताया कि स्थानीय विद्यालय के कब बुलबुल ने पहले दिन से ही होने वाली प्रतियोगिताओं वह गतिविधियों में उत्कर्ष प्रदर्शन करते हुए चैंपियन सी की ओर रुख कर दिया था। तत्पश्चात दिन प्रतिदिन होने वाली प्रतियोगिताओं में श्रेष्ठ साबित करते हुए चैंपियन शील्ड पर अपनी पकड़ मजबूत रखी उन्होंने बताया कि समापन समारोह में जब चैंपियनशिप राजस्थान के नाम हुई तो खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा इस दौरान दाल बाटी चूरमा और अचार को खाकर बताया कि हमने यह नाम ही सुना है आज हम इसको टेस्ट कर देख लिया बहुत ही स्वादिष्ट व्यंजन तैयार किया गया महोत्सव में गूंज मन हो गया दाल बाटी चूरमा हम राजस्थान के सूरमा राजस्थान की क्या पहचान ऊंचे टीले ऊंट वहां की कहावत को पूरा करते हुए समापन समारोह के मुख्य अतिथि ईस्टर्न सेंट्रल रेलवे के महाप्रबंधक महिला कल्याण की अध्यक्ष आयोजन रेलवे के स्टेट चीफ कमिश्नर एवं महोत्सव की डिप्टी डायरेक्टर सुरेखा श्रीवास्तव ने राजस्थान की भूरि भूरि प्रशंसा की और आज विद्यालय पहुंचने पर विद्यालय प्रबंधक चिरंजीलाल सैनी प्रधानाचार्य किरण सैनी समन्वयक बद्री विशाल जांगिड़ के द्वारा कब बुलबुल के तिलकाअर्चन, माला व मिठाई खिलाकर भव्य स्वागत अभिनंदन किया गया। विद्यालय प्रबंधक के द्वारा स्काउटिंग कार्यक्रम के माध्यम से मानसिक बौद्धिक चारित्रिक मनोवैज्ञानिक तथा दृष्टिकोण का विकास होता है और वह हमारे परिवार समाज देश एवं विश्व क्यों सम्राट करने में अपनी भूमिका निभाते हैं इस स्वागत कार्यक्रम के दौरान प्रबंधक ने बताया कि ज्यादा से ज्यादा इस प्रकार के प्रोग्राम वह गतिविधियों में भाग अवश्य लेना चाहिए। इस कार्यक्रम के दौरान प्रवीण ,सनी सैनी, जयप्रकाश, शारीरिक शिक्षक नरेश कुमार शर्मा, हेमलता ,कुसुम लता, विनोद कुमार समस्त विद्यालय स्टाफ व छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button