ताजा खबरसीकर

गांवों में घर-घर जल पहुंचने का कार्य हुआ पूरा

Avertisement

सीकर, घर-घर जल पहुंचने को लेकर संकल्पबद्ध राजस्थान की भजनलाल सरकार के गुड गवर्नेस के चलते जल जीवन मिशन के कार्यों में सीकर जिला 29 वे स्थान पर आ गया है। 23 से बढ़कर 115 गांव ऐसे हो चुके हैं जिनमें शत—प्रतिशत घरो में नल कनेक्शन जारी किये गए है। यह सब इसलिए संभव हो पाया की जिला कलेक्टर कमर चौधरी ने सीएम भजनलाल शर्मा व सरकार की मंशा के अनुरूप घर-घर जल पहुंचने वाली योजना जल जीवन मिशन के तहत जिलेभर में चल रहे कार्यों की समीक्षा कर प्रगति पर नजर बनाए रखने का परिणाम है।

जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता चुन्नी लाल भास्कर ने बताया की सरकार की जल जीवन मिशन एक महत्वाकांक्षी योजना है। जिसका उद्देश्य हर ग्रामीण के घर में नल के माध्यम से स्वच्छ और पर्याप्त पेयजल प्रदान करना है। राजस्थान जैसे जल-संकटग्रस्त राज्य के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। जल जीवन मिशन का उद्देश्य हर ग्रामीण घर को प्रति व्यक्ति 55 लीटर पानी प्रतिदिन उपलब्ध कराना है।

इस मिशन में जल संरक्षण, वर्षा जल संचयन और ग्रे वॉटर के पुनः उपयोग जैसे स्त्रोत स्थिरता उपायों को अनिवार्य तत्व के रूप में शामिल किया गया है। यह मिशन सामुदायिक भागीदारी पर आधारित है, जिससे स्थानीय समुदायों में स्वामित्व की भावना पैदा हो। मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा प्रदेश में जल जीवन मिशन में पेयजल स्कीम व प्रोजेक्ट की गति बढ़ाने साथ-साथ फील्ड में पाइपलाइनों व टंकियों के निर्माण में हो रही गडबडियों को लेकर गंभीर है।
सरकार बनने के पश्चात मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने जल जीवन मिशन योजना को व्यक्तिगत रूप से लेते हुए कई बैठकों का आयोजन कर महत्वपूर्ण फैसले लिए जिसके परिणाम स्वरूप जिलों में जल जीवन मिशन की प्रगति को रफ्तार मिली। सीकर जिले में जेजेएम के तहत अब तक लगभग 1 लाख 28 हजार 613 कनेक्शन हुए जिससे नल से घर तक पानी पहुंचा है। जिले में भी सरकार की मंशा के अनुसार जिला कलेक्टर कमर चौधरी ने गत महीनों में जल जीवन मिशन के कार्यों की नियमित रूप से समीक्षा कर योजना की प्रगति को बढाया है।

Related Articles

Back to top button