Breaking Liveचिकित्साझुंझुनूताजा खबरविशेषवीडियो

Video News – झुंझुनू किडनी कांड के आरोपी डॉक्टर संजय धनखड़ का रजिस्ट्रेशन निरस्त

Avertisement

डॉ. संजय धनखड़ सहित आठ चिकित्सकों के पंजीयन निरस्त, 2 के निलंबित

आरएमसी की जनरल बॉडी की बैठक लिया गया फैसला

जयपुर/झुंझुनू, झुंझुनू जिला मुख्यालय पर धनखड़ हॉस्पिटल में हाल ही में महिला की लापरवाही पूर्वक संक्रमित किडनी के स्थान पर सही किडनी निकालने के मामले में आरोपी डॉक्टर संजय धनखड़ का पंजीयन निरस्त कर दिया गया है। राजस्थान मेडिकल काउंसिल की जनरल बॉडी की बैठक आज आयोजित हुई जिसमें डॉक्टर संजय धनखड़ के साथ आठ चिकित्सकों का पंजीयन निरस्त किया गया है वहीं दो का निलंबित कर दिया गया है। राजस्थान मेडिकल काउंसिल की जनरल बॉडी की बैठक निदेशक जन स्वास्थ्य डॉ. रवि प्रकाश माथुर की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में राज्य के सभी मेडिकल कॉलेज से 22 मनोनीत सदस्यों ने भाग लिया।

निदेशक जन स्वास्थ्य डॉ. रवि प्रकाश शर्मा ने बताया कि बैठक में पैनल एंड एथिकल कमेटी के समक्ष कुल 25 प्रकरण प्रस्तुत किए गए। जिसमें एनएमसी, दिल्ली के दिशा-निर्देश अनुसार 8 चिकित्सकों का पंजीयन निरस्त किया गया एवं दो चिकित्सकों का पंजीयन 6 माह के लिए निलंबित किया गया है। उन्होंने बताया कि डॉ. संजय धनखड़, डॉ. गणपत सिंह, डॉ. मो. साजिद, डॉ. मो. अफजल, डॉ. कृष्णा सोनी, डॉ. बोम्मा रेड्डी हरि कृष्णा, डॉ. जयदीप सिंह एवं डॉ. बलजीत कौर का पंजीयन निरस्त किया गया है। डॉ. अजय अग्रवाल और डॉ. सुमन अग्रवाल का पंजीयन 6 माह के लिए निलंबित किया गया है।
डॉ. माथुर ने बताया कि अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य शुभ्रा सिंह के निर्देशों पर राजस्थान मेडिकल काउंसिल के सभी समस्त रिकार्ड को ऑनलाइन करने एवं चिकित्सकों के क्रेडिट अवार्ड को बढ़ाने के लिए ऑनलाइन सीएमई सिस्टम लागू करने एवं परिषद में पंजीकृत चिकित्सकों का क्यूआर कोड वाले स्मार्ट कार्ड बनाने का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया। साथ ही पीसीटीएस सॉफ्टवेयर और यू विन पोर्टल पर निजी चिकित्सालय का रिपोर्टिंग करने के भी निर्देश दिए गए हैं । रजिस्ट्रार डॉ. राजेश शर्मा ने बताया कि 31 जुलाई, 2024 तक जो चिकित्सक पॉलिसी के तहत पंजीयन नवीनीकरण नहीं कराएंगे, उनका पंजीयन निरस्त कर दिया जायेगा। शेखावाटी लाइव ब्यूरो रिपोर्ट झुंझुनू

Related Articles

Back to top button