चिकित्साताजा खबरसीकर

रींगस के सरकारी अस्पताल में महिला के गर्भाशय से डेढ़ किलो की गांठ निकाली

Avertisement

40 वर्षीय महिला राधादेवी पेट में दर्द होने पर

सीकर, राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रींगस में 40 वर्षीय महिला के गर्भाशय से डेढ़ किलो की गांठ को ऑपरेशन के द्वारा निकाला गया है । वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी प्रभारी डॉ विनोद कुमार गुप्ता ने बताया कि 40 वर्षीय महिला राधादेवी पेट में दर्द होने पर सीएचसी रींगस में सर्जन डॉ जितेंद्र यादव को दिखाने आई जिसकी सोनोग्राफी कराने पर गर्भाशय में सूजन एवं गांठ का मालूम चला। इस पर सीएचसी रींगस की टीम ने ऑपरेशन का प्लान किया। टीम में डॉ जितेंद्र यादव सर्जन ,डॉ स्वाति नयन स्त्री एवं प्रसूता रोग विशेषज्ञ, डॉ प्रकाश धायल एनेस्थेटिक , नर्सिंग ऑफिसर सुभिता वर्मा,संगीता मौर्य ,अशोक शर्मा ,सुल्ताना कुरेशी इत्यादि शामिल रहे।

डॉ प्रकाश धायल ने बताया कि मरीज को स्पाइनल एनेस्थीसिया दिया गया था ,पर गांठ बड़ी होने की वजह से ऑपरेशन में दिक्कत आ रही थी।इस पर मरीज को जनरल एनेस्थीसिया देकर पूर्ण बेहोश कर ऑपरेशन किया गया। प्रभारी डॉ विनोद कुमार गुप्ता ने बताया कि सर्जन डॉ जितेंद्र यादव व उनकी टीम के द्वारा सीएचसी रींगस पर हर्निया, पाइल्स, फिशर, बच्चादानी, अपेंडिक्स इत्यादि के ऑपरेशन किए जा रहे हैं एवं डॉ स्वाति नयन स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ द्वारा सिजेरियन प्रसव किए जा रहे हैं, एवं नाक कान गला रोग विशेषज्ञ डॉ रामावतार दायमा द्वारा भी उपलब्ध संसाधनों के आधार पर ऑपरेशन किए जा रहे हैं। राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रींगस सहित आसपास के 10-15 गांव की 2-3 लाख की जनसंख्या को सेवाएं दे रहा है। सीएचसी पर भामाशाह ,प्रशासन, विधायक महोदय इत्यादि के सहयोग से लेप्रोस्कोप एवं नाक कान गला रोग के उपकरण की व्यवस्था करने का प्रयास जारी है जिनके उपलब्ध होने पर सीएचसी पर सर्जिकल सुविधाओं में और बढ़ोतरी होगी।

Related Articles

Back to top button