चुरूताजा खबर

प्रशासन की संवेदनशीलता, तहसीलदार ने घर जाकर किया खाता विभाजन

Avertisement

लाभार्थी नोपाराम ने कहा- ग्रामीण क्षेत्रों में प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविरों का आयोजन आमजन के लिए वरदान

चूरू, प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविर ग्रामवासियों के लिए वरदान साबित हो रहे हैं। प्रशासन भी आमजन की सुविधा के लिए निरन्तर हरसंभव प्रयास कर रहा है। ऎसा ही वाकया ग्राम पंचायत भावनदेसर में आयोजित प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविर में देखने को मिला जब भावनदेसर के खातेदार धापू देवी पत्नी करताराम उम्र 76 वर्ष तथा उनके वारिस ने शिविर प्रभारी उपखंड अधिकारी अभिलाषा को अवगत कराया कि मेरे पति दो भाई थे। मेरे पति ही मृत्यु हो गई और मेरे जेठ भी वृद्ध हैं जिनकी उम्र लगभग 85 वर्ष है जो चलने में असमर्थ हैं और हमारे खेत दो गांव नूवां व भावनदेसर में हैं। मौके पर हमने भाई बंटवारा कर रखा है, परंतु राजस्व अभिलेख में हमारा खाता शामिल ही है। धापू देवी की बात सुनकर तुरंत ही उपखंड अधिकारी अभिलाषा ने तहसीलदार बजरंग लाल को निर्देशित किया कि इनके खाता विभाजन के कागजात तुरंत तैयार करें। एसडीएम के निर्देशन में हल्का पटवारी द्वारा खाता विभाजन के दस्तावेज तैयार कर तहसीलदार व पटवारी विनोद मीणा ने खातेदार 85 वर्षीय नोपाराम पुत्र सुरजाराम के घर जाकर समझाईश कर खाता विभाजन के प्रस्तावों पर हस्ताक्षर करवाए और हाथोंहाथ खाता विभाजन की प्रक्रिया पूर्ण की। प्रार्थी नोपाराम ने बताया कि मेरी उम्र 85 वर्ष हो गई अब मेरे से चला – फिरा नहीं जाता है। पहले भी कई बार खाता विभाजन करवाने के लिए प्रयास किए परंतु हमारा खाता विभाजन नहीं हुआ और मेरे भाई की मृत्यु भी हो गई। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद भी नहीं थी कि हमारे खातों का विभाजन हो जाएगा। प्रशासन की संवेदनशीलता और ग्रामीण क्षेत्रों में प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविरों का आयोजन से आज हमारा खाता विभाजन हो पाया है, इसके लिए हम राज्य सरकार और प्रशासन के शुक्रगुजार हैं।उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में शिविरों के आयोजन केा आमजन के लिए वरदान बताते हुए राजस्थान सरकार को धन्यवाद दिया।

Related Articles

Back to top button