Browsing Category

लेख

मुर्गियों का टीकाकरण कलेण्डर

मुर्गीपालन 2 प्रकार से किया जाता हैं| जो मुर्गियाँ अंडो के उत्पादन के लिए पाली जाती हैं उनको “लेयर्स” तथा जो मुर्गियाँ मांस के उत्पादन के लिए पाली जाती हैं उनको “ब्रोयलर्स” कहते हैं| विश्व मे सर्वाधिक अंडे देने वाली मुर्गी की नस्ल…

पशुपालन – गाय-भैंस का टीकाकरण कलेण्डर

पशुपालकों को अपने सभी पशुओं का समय पर टिकाकरण और कृमिनाशन करवाना चाहिए| गाय-भैंस का हर 3 माह मे कृमिनाशन करवाना आवश्यक होता हैं| पशु रोगों से बचाव के लिए, स्वस्थ पशुओं का निम्नानुसार टिकाकरण करवाना चाहिए- टीकाकरण-कलेण्डर…

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More